रविवार, जुलाई 05, 2020

चंद्रहासिनी माता मंदिर चंद्रपुर रायगढ़ छत्तीसगढ़ | chandrahasini mata temple chandrapur

चंद्रहासिनी मंदिर के बारे में पूरी जानकरी 

आज हम आपको छत्तीसगढ़ के प्रसिद्ध मंदिर मां चंद्रहासिनी मंदिर के बारे में बताने जा रहे हैं। इस मंदिर में पंचमुखी हनुमान व विष्णु जी के विराट स्वरुप का बहुत बड़ा मूर्ति बना हुआ है इसके अलावा समुद्र मंथन ,कौरव पांडवों व राधा कृष्णा की झांकियां मूर्तियों के रूप में दिखाई गई है। मंदिर के पास में ही छत्तीसगढ़ का सबसे बड़ा ब्रिज स्थित है। चंद्रमा की आकृति जैसा मुख होने के कारण इन्हें चंद्रहासिनी और चंद्रसेनी मां के नाम जानते हैं। 
चंद्रहासिनी माता मंदिर चंद्रपुर रायगढ़ छत्तीसगढ़ | chandrahasini mata temple chandrapur

कहाँ है चंद्रहासिनी माता मंदिर :-

छत्तीसगढ़ के रायगढ़ से लगभग 27 किलोमिटर की दूरी पर चंद्रपुर में महानदी के तट पर मां चंद्रहासिनी का मंदिर है। यह मंदिर छतीसगढ़ के सबसे प्राचीन मंदिरों में एक है। चारों ओर से प्राकृतिक मनमोहक सुंदरता से घिरे हुए चंद्रपुर की खूबसूरती देखने लायक है। बरसात के मौसम में यहा घूमना अपने आप में रोमांचित करने वाला होता है नदी अपने पुरे उफान में रहती है। महानदी व माण्ड नदी के बीच बसे चंद्रपुर में मां दुर्गा के 52 शक्तिपीठों में से एक स्वरूप मां चंद्रहासिनी के रूप में विराजित है।


चंद्रहासिनी मंदिर परिसर :-

मंदिर परिसर में अर्द्धनारीश्वर, महाबलशाली पवन पुत्र, कृष्ण लीला, चीरहरण, महिषासुर वध, चारों धाम, नवग्रह की मूर्तियां, सर्वधर्म सभा, शेषनाग शय्या तथा अन्य देवी-देवताओं की भव्य मूर्तियां जीवन्त लगती हैं। इसके अलावा मंदिर परिसर में ही स्थित चलित झांकी महाभारत काल को जीवित रूप में दिखाती है, जिसे देखकर महाभारत के चरित्र और कथा की पूरी जानकारी भी मिलती है।

दूसरी ओर भूमि के अंदर बनी सुरंग है और इसका भ्रमण करने पर रोमांच महसूस होता है। वहीं माता चंद्रसेनी की चंद्रमा आकार की प्रतिमा के एक दर्शन मात्र से भक्तों की सभी मनोकामनाएं पूर्ण होती हैं।

चंद्रहासिनी मंदिर के कुछ दूर आगे महानदी के बीच मां नाथलदाई का मंदिर स्थित है। कहा जाता है कि महानदी में बरसात के दौरान लबालब पानी भरे होने के बाद भी मां नाथलदाई का मंदिर नहीं डूबता।

कैसे पहुचें चंद्रपुर:-

चंद्रपुर पहुंचने के लिए आसपास  के शहरों से बस आदि की सुविधा है। यात्री यदि चाहे तो चांपा या रायगढ़ से प्राइवेट वाहन किराए पर लेकर भी चंद्रपुर पहुंच सकते हैं।

हवाई मार्ग: नजदीकी हवाई अड्डा स्वामी विवेकानंद हवाई अड्डा, रायपुर है। चंद्रहासिनी मंदिर और रायपुर के बीच की दूरी लगभग 220 किलोमीटर है।

रेल मार्ग: नजदीकी रेलवे स्टेशन रायगढ़ रेलवे स्टेशन चंद्रहासिनी मंदिर से लगभग 30 किमी है। 

कोई टिप्पणी नहीं:

टिप्पणी पोस्ट करें