गुरुवार, नवंबर 05, 2020

मुख्यमंत्री सुपोषण अभियान छत्तीसगढ़ 2019| mukhyamantri Suposhan yojna chhattisgarh 2019

मुख्यमंत्री सुपोषण अभियान छत्तीसगढ़ 2019| CM Suposhan yojna 2019 | मुख्यमंत्री सुपोषण अभियान की जानकारी व ख़ास बातें 

मुख्यमंत्री सुपोषण अभियान आदिवासी बाहुल्य जिला मुख्यालय दंतेवाड़ा में छोटे बच्चों एवं महिलाओं के पोषण स्तर व सेहत में सुधार हेतु दंतेवाड़ा जिले में माननीय मुख्यमंत्री जी द्वारा 'सुपोषित दंतेवाड़ा अभियान' दिनांक 24 जून 2019 में प्रारंभ किया गया। पर इस अभियान से मिली सफलता ने प्रदेश के अन्य जिलों में भी इस योजना को शुरू करने का प्रेरणा दिया अतः प्रदेश के अन्य जिलों में भी गांधी जी के 150 वीं जयंती के मौके पर 02 अक्टूबर 2019 को मुख्यमंत्री सुपोषण अभियान सभी जिलों में शुरू किया गया है।

mukhyamantri Suposhan yojna chhattisgarh 2019

मुख्यमंत्री सुपोषण अभियान का उद्देश्य :-

इस अभियान का प्रमुख उद्देश्य इस योजना के अंतर्गत 0 से 6 वर्ष तक के बच्चों व 15 से 49 वर्ष तक की महिलाओं को कुपोषण तथा एनीमिया (खून की कमी ) से मुक्त करने का रखा गया है यह योजना 2 अक्टूबर को बस्तर में शुरू किया गया था इस अभियान में स्थानीय स्तर पर आसानी से मिलने वाली पोषक खाद्य पदार्थों को शामिल किया गया है। इस अभियान के अंतर्गत आने वाले हितग्राहियों को अतिरिक्त पोषण आहार के रूप में अण्डा, चिकी, लड्डू, मूंगफली, दलिया आदि प्रदान किया जा रहा है। इसके अतिरिक्त एनीमिक बच्चे एवं महिलाओं को आयरन व कृमि नाशक दवाएं दी जा रही है तथा निःशुल्क परामर्श दिया जा रहा है।

मुख्यमंत्री सुपोषण अभियान की खास बातें :-

  • 0 से 6 वर्ष तक के बच्चों को कुपोषण मुक्ति का लक्ष्य।
  • 15 से 49 वर्ष तक की लड़कियों व महिलाओं कुपोषण तथा एनीमिया से मुक्त करना। 
  • शारीरिक रूप से कुपोषित बच्चों को सामान्य स्तर पर लाने का प्रयास। 
  • आयरन व कृमि नाशक दवाओं का निःशुल्क वितरण।
  • स्थानी आंगनबाड़ियों में वितरण केंद्र। 
  • खास पोषण पुनर्वास केन्द्रो का निर्माण। 
  • फल दूध सोयाबीन फल व हरी सब्जियां दिया जाता है।
  • महात्मा गांधी की 150 वी जयती पर शुरू किया गया।
  • अभियान को योजना बद्ध तथा इसी सफलता के साथ चालू रखने के लिए अभियान को योजना का रूप देने पर विचार किया जा रहा है।
  • इस अभियान को सफल बनाने हेतु महिला एवं बाल विकास विभाग द्वारा मुख्यमंत्री सुपोषण निधि खाता खोला गया है जिसमे मुख्यमंत्री सुपोषण अभियान के लिए आर्थिक सहायता किया जा सकता है। 

मुख्यमंत्री सुपोषण योजना मोबाइल एप्लीकेशन :-

के तहत मोबाइल एप्प भी शुरू किया गया है जिसे गूगल प्ले स्टोर से डाउनलोड किया जा सकता है। इस एप्प के जरिये आंगनबाड़ी कार्यकर्त्ता सभी डाटा ऑनलाइन भेज सकते है। 

इन्हें भी पढ़ें :-

कोई टिप्पणी नहीं:

टिप्पणी पोस्ट करें